स्पेशल रिपोर्ट: ITI के बाद डिप्लोमा (Polytechnic) का बढ़ता क्रेज

हेल्लो दोस्तों.. अपने पिछले आर्टिकल में मैंने आपको भारत के 7 सबसे उभरते ITI कोर्सेज के बारे में जानकरी दी थी| यह बताते चले कि आईटीआई के क्रेज ने आज एक बड़े तबके का ध्यान अपनी ओर खिंचा हैं| आज के इस बढती आबादी में कई मायनो में आपको भीड़ से अलग कर एक स्किल्ड वर्कर के रूप में स्थापित करने के लिए ITI एक बेहतर विकल्प हो सकता है| ऐसे में काफी लोगो ने मुझसे आईटीआई के बाद आगे क्या किया जाये? के बारे में जानकारी सांझा करने को कहा था| आज हम आपको आईटीआई के बाद डिप्लोमा (Diploma after ITI) के बढ़ते क्रेज से अवगत करा इसके लिए जरुरी मापदंडो की जानकारियाँ देंगे|

Strength

PC: madestrength

भारत में स्किल्ड लेबर के तादाद में भाड़ी गिरावट को देखते हुए सरकार ने आजादी के बाद Craftsmen Training Scheme के तहत विभिन्न स्थानों में ITI ट्रेनिंग सेंटर की स्थापना की| मकसद..लोगो को तकनीकीकरण की ओर प्रोत्साहित कर उन्हें रोज़गार के लायक बनाना और तेज़ी से बढ़ रहे अर्थव्यवस्था के लिए बड़ी तादाद में स्किल्ड मैन्फोर्स तैयार करना| आज ITI कोर्सेज उन लोगो के लिए बेहतर विकल्प हो सकती है जो धन के अभाव अथवा पारिवारिक कमजोरियों के वजह से आगे अपनी पढाई जारी नहीं रख सकते| ऐसे में ITI कम्पलीट करने के बाद आपके पास दो आप्शन रह जाते हैं, पहली: जॉब करने की एवं दूसरी डिप्लोमा कर अपने योग्यता को थोडा और निखारने की| आगे बढ़, आप चाहे तो इंजीनियरिंग कर अपनी योग्यता एवं सैलरी दोनों ही बढ़ा सकते हैं|


Diploma After ITI | ITI के बाद डिप्लोमा का बढ़ता क्रेज


यूँ तो, आईटीआई स्टडी सेंटर के अंतर्गत 100 से भी अधिक कोर्सेज है मगर कुछ कोर्सेज ऐसे भी हैं जिनकी गिनती सदाबहार ट्रेड में की जाती है|

Top Admission Consultant in Delhi

Sponsored

आईटीआई में उपलब्ध सारे कोर्सेज का यदि बारीकी से अध्यन किया जाये तो इन कोर्सेज को दो पार्ट में डिवाइड किया जा सकता है|

  • इंजीनियरिंग (Engineeirng)
  • नॉन-इंजीनियरिंग (Non-Engineeirng)

यहाँ यह बताते चले कि इंजीनियरिंग ट्रेड वाले बच्चे (जैसे मैकेनिकल, सिविल, इलेक्ट्रिकल, कंप्यूटर साइंस इत्यादि) आगे अपने सम्बंधित ब्रांच से डिप्लोमा कर सकते है|

डिप्लोमा अध्यन हेतु आवश्यक योग्यता  | (Eligibility for Diploma Courses)


आज जिस रफ़्तार से टेक्निकल स्टडीज के प्रति हमारे रुझान में वृधि आयी है उसी अनुपात में ढेर सारे Polytechnic Colleges भी खुल रहे हैं| उपयुक्त संसाधनों से सुस्सजित इन सारे पॉलिटेक्निक कॉलेज से आप चाहे तो आगे की पढाई जारी रख सकते हैं| आइये एक नजर आईटीआई के बाद डिप्लोमा स्टडीज के लिए आवश्यक योग्यता पर डालते है|

शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualification)

  • किसी भी तकनिकी आईटीआई संसथान जो की NCVT से Affiliated हो|
  • सबन्धित ब्रांच से डिप्लोमा करने हेतु आपको उस ट्रेड में मिनिमम पासिंग मार्क्स (33%) लाने होंगे|
  • आयु सीमा उपरोक्त कॉलेज एवं एडमिशन प्रॉस्पेक्टस में छपे मापदंडो के अनुरूप निर्धारित होगी|

एडमिशन प्रक्रिया (Admission Process)

यहाँ पाठकों को यह बताते चले की विभिन्न राज्य अपने सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज में आईटीआई पास बच्चों के नामांकन हेतु हर साल एक संयुक्त प्रवेश परीक्षा का आयोजन करती है| उचित शैक्षणिक योग्यता एवं आयु सीमा इन प्रवेश परीक्षा के तहत निर्धारित की जाती हैं| अभी हाल ही में दिल्ली सरकार ने अपने 30 से भी अधिक सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज में नामांकन हेतु प्रवेश परीक्षा आयोजित की थी|

Meerabai Institute of Technology Delhi

Meerabai Polytechnic Delhi

आप जिस भी राज्य के मूल निवासी हो उस राज्य के पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा में अच्छे मार्क्स ला आप डायरेक्ट डिप्लोमा के सेकंड इयर में एडमिशन पा सकते हैं| अमूमन विभिन्न राज्यों द्वारा आयोजित पॉलिटेक्निक प्रवेश परीक्षा के लिए नामांकन प्रक्रिया मार्च/अप्रैल से स्टार्ट होकर जुलाई/अगस्त तक चलती है|

इसे भी पढ़े: दिल्ली सरकार द्वारा आयोजित पॉलिटेक्निक परीक्षा हेतु निर्देशित कार्यक्रम

इसे भी पढ़े: पश्चिम बंगाल के समस्त पॉलिटेक्निक कॉलेज

आवश्यक डाक्यूमेंट्स (Required Documents)

आइये नजर डालते है एडमिशन के वक़्त लगने वाले आवश्यक दस्तावेज़ पर.

  • Domicile Certificate.
  • 10Th/12Th Detail Marks Card(DMC)
  • Migration Certificate/School Leaving Certificate.
  • Your Father’s Income Certificate.
  • Passport size photographs.

नोट: ध्यान दे, उपरोक्त दस्तावेजो के अलावा भी जरुरत परने पर अन्य दस्तावेजों की आवश्यकता पर सकती है|

पॉलिटेक्निक कॉलेज के फीस (Fees Structure)

हालाँकि, पॉलिटेक्निक कॉलेज की फीस अपने इंजीनियरिंग समकक्षों से कम होती है मगर इसका निर्धारण प्रबंधन कमिटी करती हैं| आइये डालते है एक नजर विभिन्न संस्थानों द्वारा चार्ज की जाने वाली रकम पर|

Institute Average Fees (per Year)
Government Aided Rs 15,000-22,000 only/-
Private Institute Rs 35,000-42,000 only/-

करियर संभावना (Career prospects)

एक संस्था में स्किल्ड लेबर के जरूरतों को पूरा करने हेतु संचालित संसथानो से आईटीआई कर नौकरी ढूंढने में  ज्यादा परेशानी नहीं होती| मगर यह ध्यान रखे कि कंपनी अथवा सरकार आपको आपकी योग्यता पर ही पद निर्धारित करती हैं| ऐसे में आईटीआई के बाद डिप्लोमा कर आप औरो से एक कदम आगे तो निकल ही चुके हैं| डिप्लोमा के बाद आगे कंपनी आपको बेहतर सैलरी में नियुक्त कर सकती है| आप चाहे तो आगे इंजीनियरिंग (B.Tech) कर अपनी योग्यता और निखार सकते हैं|

  • Average Diploma Holder (Polytechnic) Salary: 8,000-15,000 per month
  • Average Degree holder (Engineering) Salary: 22,000-35,000 per month

प्रमुख डिप्लोमा संस्थान (Top Diploma Colleges in India)

आइये डालते हैं एक नजर भारत के कुछ बहुचर्चित डिप्लोमा संस्थानों पर.

  • Bhadrak Institute of Engineering & Technology: Bhadrak, Odisha
  • Bharati Vidyapeeth’s Jawaharlal Nehru Institutes of Technology: Pune, Maharashtra
  • Dayanand Sagar College of Engineering: Belgaum, Karnataka
  • Government Polytechnic College: Satna,  Madhya Pradesh

आशा करते है डिप्लोमा से जुड़ीं यह लेख आपके काम आये|

  इसे भी पढ़े: स्कालरशिप क्या हैं | Scholarship Benefits in Hindi | Scholarships के फायदे…!!

इसे भी पढ़े: इंजीनियरिंग है पहली पसंद तो ध्यान दे ये 5 जरुरी बातें

यदि आप भी करियर सम्बंधित किसी तरह के परेशानियों से जूझ रहे हैं तो हमसे संपर्क करना न भूले| याद रहे केवल उचित मार्गदर्शन से ही असंभव को संभव किया जा सकता हैं| आप चाहे तो, अपनी उलझने हमें नीचें दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर सकते हैं|

Tag: ITI के बाद डिप्लोमा, Diploma after ITI

 

विभिन्न परीक्षाओं के लिए कंप्यूटर अवेयरनेस हिंदी में पढ़ें Click Here
Hello. Add your message here.